Redirection क्या होता है – 301 और 302 रीडायरेक्सन में क्या अंतर है?

Sakshi
3
इस ब्लॉग के एक और नए लेख में आपका फिर से स्वागत है, यदि आप एक SEO Person हैं या आपका अपना ब्लॉग या वेबसाइट है तो आपने कभी न कभी रीडायरेक्सन के बारे में सुना होगा लेकिन क्या आप वास्तव में जानते हैं कि Redirection क्या है और इसका उपयोग कब किया जाता है और 301 और 302 Redirection के बीच क्या अंतर है?

आज के लेख में हम Redirection से संबंधित सभी सवालों के जवाब जानेंगे, साथ ही इस लेख में हम Redirection के विभिन्न प्रकारों पर भी चर्चा करेंगे. तो चलिए आपका ज्यादा समय न लेते हुए शुरू करते हैं Redirection kya hai पर यह महत्वपूर्ण लेख.

TOC

Redirection क्या होता है?

रीडायरेक्सन एक ऐसी प्रक्रिया है जो यूजर्स और सर्च इंजन रोबोट्स को एक URL (यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स लोकेटर) से दूसरे URL पर भजेता है, पहला URL वह होता है जिस पर यूजर्स क्लिक करते हैं और दूसरा URL वह होता है जिस पर वे पहुंच जाते हैं, इसे Destination URL भी कहा जाता है.

अब यहाँ एक सवाल आता है कि हम यूजर्स और सर्च इंजन बॉट्स को एक URL से दूसरे URL पर क्यों भेजते हैं?

इसका उत्तर यह है कि जब हम अपनी वेबसाइट पर किसी वेबपेज का URL बदलते हैं या किसी कंटेंट को डिलीट करते हैं तो उस वेबपेज के URL पर 404 Error आ जाता है. क्योंकि अब उस URL पर कोई कंटेंट मौजूद नहीं है तो ऐसे में हम उस वेबपेज के URL को उस URL पर रीडायरेक्ट करते हैं जिसमें उस URL से Relevant कंटेंट उपलब्ध होता है.

यदि आप अपने लिंक में बदलाव करते हैं या कोई कंटेंट हटाते हैं तो SEO की दृष्टि से Redirection करना बहुत आवश्यक होता है.

Redirection के प्रकार

SEO में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले Redirection 301 और 302 हैं लेकिन इसके साथ ही एक और Redirection का उपयोग किया जाता है जो कि 307 है, जिनकी जानकारी इस प्रकार है.

Redirection Kya Hota Hai
Redirection Kya Hota Hai

301 Redirection

जब हम अपने किसी वेबपेज के पुराने URL को नए URL पर स्थायी रूप से Redirect करते हैं, तो इसे 301 Redirection कहा जाता है. 301 Redirection में अगर कोई यूजर या सर्च इंजन बॉट हमारे पुराने URL पर क्लिक करते हैं तो वे अपने आप नए URL पर रीडायरेक्ट हो जाते हैं, इसे एक उदाहरण से समझते हैं.

मान लीजिए हमारी वेबसाइट ब्लॉगर पर बनी है और इसके एक वेबपेज का URL है - 

https://xyz.com/2023/07/webpage-ur.html 

अब हमने अपनी ब्लॉगर वेबसाइट को WordPress पर Migrate कर दिया है और हमने वेबपेज के URL को https://xyz.com/webpage-url में बदल दिया है.

तो यहां पर अब हमारे वेबपेज का URL बदल गया है, लेकिन यूजर और सर्च इंजन बॉट्स को हमारे पुराने URL के बारे में ही पता है और वे हमारे नए URL के बारे में नहीं जानते हैं इसलिए वे हमारे पुराने URL पर ही क्लिक करेंगे.

यदि अब हमने 301 Redirection का इस्तेमाल नहीं किया है तो उस वेबपेज में 404 का Error आ जाएगा जिससे यूजर एक्सपीरियंस तो खराब होगा ही साथ में सर्च इंजन रिजल्ट पेज में हमारी वेबसाइट की रैंकिंग भी डाउन हो जाएगी.

लेकिन अगर हम 301 Redirection का उपयोग करते हैं तो जब यूजर्स और सर्च इंजन बॉट्स हमारे पुराने URL पर क्लिक करते हैं तो वे अपने आप नए URL पर आसानी से पहुंच जाते हैं.

301 Redirection का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि हम जिस वेबपेज को 301 redirect करते है तो उस पेज की सारी value (जैसे Backlink, Ranking आदि) भी नए URL में Transfer हो जाती है. SEO के नजरिये से 301 Redirection बहुत अधिक महत्वपूर्ण है और इसका उपयोग बहुत ही अधिक किया जाता है. 

302 Redirection

जब हम अपने एक वेबपेज को Temporary रूप से दूसरे URL पर रीडायरेक्ट करते हैं तो इसे ही 302 Redirection कहा जाता है.

इसका उपयोग तब किया जाता है जब आप किसी एक वेबपेज पर कुछ काम करते हैं अर्थात जब वेबपेज रख-रखाव मोड पर होता है. उस समय आपके वेबपेज पर आने वाले विज़िटर को अस्थायी रूप से दूसरे URL पर रीडायरेक्ट किया जाएगा.

इसका प्रयोग बहुत ही कम होता है. इसमें वेबपेज की वैल्यू ट्रांसफर नहीं होती है, 302 रीडायरेक्सन का उपयोग ज्यादातर ई-कॉमर्स वेबसाइट में किया जाता है.

307 Redirection

307 Redirection भी 302 Redirection के जैसा ही है, इसका उपयोग वेबपेज के टेंपरेरी रीडायरेक्सन के लिए किया जाता है, 307 Redirection का उपयोग तब किया जाता है जब आप किसी कंटेंट को टेंपरेरी रूप से Transfer करते हैं, ज्यादातर मामलों में, क्रॉलर 307 को 302 के समान ही मान लेते हैं.

307 और 302 के बीच एक मात्र अंतर यह है कि 307 में इस बात की गारंटी होती है कि Redirect होने पर कंटेंट नहीं बदला जाएगा, लेकिन 302 में कंटेंट को बदला जा सकता है. ऐसे में आप कंटेंट को अस्थायी रूप से Transfer करने के लिए 302 का उपयोग कर सकते हैं.

Redirection कब करते हैं

किसी वेबपेज को Redirect करने के कुछ निम्नलिखित कारण हो सकते हैं.

• वेबपेज का URL बदलने पर Redirect किया जाता है.

• वेबसाइट में किसी कंटेंट को डिलीट करने पर.

• किसी वेबपेज को Maintenance करने पर.

• वेबसाइट को Move करने पर.


Blogger पर Redirection कैसे करें

• सबसे पहले आपको Blogger Dashboard में Settings ऑप्शन में जाना है वहां आपको Errors and Redirect की Setting में जाना है.

• फिर आपको Custom Redirect के Option पर जाकर Add बटन पर क्लिक करना है.

• अब आपको From में अपना पुराना URL और To में नया URL डालना है जिसमें आप पुराने URL को रीडायरेक्ट करना चाहते हैं.

• अगर आप Permanent (301 रीडायरेक्ट) करना चाहते हैं तो Permanent वाले ऑप्शन को ऑन कर दें, अगर आप Temporary (302 Redirect) करना चाहते हैं तो Permanent को ऑफ पर छोड़ दें और फिर OK पर क्लिक करते ही आपकी ब्लॉगर वेबसाइट का URL Redirect हो जाएगा.

ध्यान रखें कि आपको संपूर्ण URL जोड़ने की आवश्यकता नहीं है, केवल Slug जोड़ें, जैसे आपकी वेबसाइट का URL है https://xyz.com/webpage-url.html तो आपको केवल webpage-url.html ही add करना होगा.

WordPress पर Redirection कैसे करें

• सबसे पहले आपको WordPress में Redirection नाम का plugin इनस्टॉल और एक्टिवेट कर लेना है.

• प्लगइन को एक्टिवेट करने के बाद आपको उसकी सेटिंग पर Click करना है.

• Setting पर क्लिक करने के बाद आप इसके Dashboard में आ जायेंगे और यहाँ पर आपको Redirect के Option पर क्लिक करना है.

• अब Add New Redirect करना है, यहां आपको अपने पुराने URL को Source URL में Add करना है और अपने नए URL को टारगेट URL में जोड़ना है, इसके बाद आपको ग्रुप में Redirection का Option चुनना है और फिर Add Redirect बटन पर क्लिक करना है. इस तरह आपकी Redirection Process पूरी हो जाएगी.

FAQ Section:
प्रश्न :- Redirection का हिंदी में क्या मतलब होता है?
उत्तर:- Redirection का हिंदी में मतलब पुनर्निर्देशन होता है.

प्रश्न :- किसी URL को स्थायी रूप से Redirect कैसे करें?
उत्तर :- 301 Redirection के माध्यम से किसी भी URL पर स्थायी Redirect किया जा सकता है.

प्रश्न :- 404 Error क्या है?
उत्तर :-  किसी वेबसाइट पर ऐसा URL जो वेबसाइट में मौजूद नहीं है, तो उस पर क्लिक करने पर 404 Error दिखाई देता है.

यह लेख भी पढ़ें -
        • Search Engine कैसे काम करता है
        • Google Search Console क्या है
        • AdSense Account कैसे बनाएं
        • SEO क्या है SEO कैसे करते हैं
        • How To Do SEO Audit In Hindi

निष्कर्ष: What is Redirection in Hindi

इस लेख के माध्यम से आपने जाना कि Redirection क्या है, इसके प्रकार और 301 और 302 Redirection के बीच क्या अंतर हैं, इसके साथ साथ हमने वर्डप्रेस और ब्लॉगर वेबसाइट में रीडायरेक्शन करने की पूरी प्रोसेस भी शेयर की है.

उम्मीद हैं कि आपको Redirection Kya hota hai लेख पसंद आया होगा. लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

एक टिप्पणी भेजें

3 टिप्पणियाँ
  1. पूनम सेमवाल8:59 pm

    Hello, मैं अपनी पोस्ट को Google Search Consol पर लगभग 15 दिनों से सबमिट कर रही हूं लेकिन indexed नहीं हो रहा है, कैसे indexed करूं, कृपया मेरी मदद करें

    जवाब देंहटाएं
  2. फिलहाल इंडेक्सिंग प्रॉब्लम चल रही है, कुछ समय इंतजार करो प्रॉब्लम ठीक हो जाएगी

    जवाब देंहटाएं
एक टिप्पणी भेजें