SEO में लिंक जूस क्या है, और इसे कैसे बढ़ाएं

Sandeep
2
SEO में जब भी बैकलिंक्स की बात आती है तो Link Juice की चर्चा जरूर होती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह Link Juice Kya Hai (What is Link Juice in Hindi) यह किसी वेबसाइट की रैंकिंग में कैसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है? और लिंक जूस कैसे मिलता है?

यदि आप उपरोक्त प्रश्नों के उत्तर नहीं जानते हैं और लिंक जूस के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक पढ़ें क्योंकि इस लेख में लिंक जूस के बारे में बहुत ही आसान शब्दों में बताया गया है.

तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं Link Juice Kya Hai को विस्तार से.

TOC

Link Juice Kya hai (What is Link Juice in Hindi)

Link Juice Kya hai (What is Link Juice in Hindi)

जब आपकी वेबसाइट को किसी अन्य वेबसाइट से Do Follow Backlink मिलता है तो इसके माध्यम से आपकी वेबसाइट को कुछ वेल्यू मिलती है, Do Follow Backlink के माध्यम से मिली वेल्यू को ही SEO की भाषा में Link Juice कहा जाता है.

No Follow Tag वाले Backlink पर क्लिक करने से लिंक जूस पास नहीं होता है, इसे केवल Do Follow Backlink के जरिए ही प्राप्त किया जा सकता है.

Link Juice की परिभाषा

किसी वेबसाइट को Do Follow Backlink के माध्यम से प्राप्त होने वाली वेल्यू को ही SEO में Link Juice कहा जाता है.

लिंक जूस के प्रकार (Type of Link Juice in Hindi)

लिंक जूस विभिन्न प्रकार के हो सकते हैं, लेकिन मुख्य रूप से यह दो प्रकार के होते हैं जो इस प्रकार हैं. 

Internal Link Juice

जब आप अपने एक वेब पेज को अपने दूसरे वेब पेज से लिंक करते हैं तो इस प्रोसेस को Internal Linking कहा जाता है और इसके परिणाम से निकलने वाले Link Juice को इंटरनल लिंक जूस कहा जाता है.

Internal Linking के माध्यम से आप अपने वेबपेज के लिए लिंक जूस की value को बढ़ा सकते हैं, जिससे आपकी वेबसाइट की Search Engine Ranking बेहतर हो सकती है.

External Link Juice

जब आप अपनी वेबसाइट या वेबपेज में किसी अन्य वेबसाइट या उसके वेबपेज के लिए Do Follow Link देते हैं तो इसमें Pass वाले लिंक जूस को External Link Juice कहा जाता है.

कई बार कई लोग External Link और Backlink में कंफ्यूज हो जाते हैं, पर यह दोनों एक ही चीज हैं इसे एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं.

मान लीजिए कि एक वेबसाइट Y है, जिसमें किसी अन्य वेबसाइट Z का लिंक है, अब वेबसाइट Y के लिए यह एक External Link होगा जबकि वेबसाइट Z के लिए यह एक Backlink होगा.

लिंक जूस कैसे बनाते हैं (How to Create Link Juice in Hindi)

अब तक हमने जाना कि Link Juice Kya Hai, अब हम जानेंगे कि लिंक जूस बनता कैसे है. चलिए इन्हें भी जान लेते हैं.

1 - Direct Link Building

डायरेक्ट लिंक बिल्डिंग का मतलब है कि हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर Do follow बैकलिंक खुद बनाते हैं, जैसे गेस्ट पोस्ट, आर्टिकल सबमिशन, प्रोफाइल सबमिशन आदि. इस प्रक्रिया को Link Building कहा जाता है.

बहुत सी ऐसी वेबसाइटें हैं जो आसानी से Do Follow Backlinks देती हैं और कुछ वेबसाइटें कमेंट के माध्यम से भी Do Follow Backlinks प्रदान करती हैं, आप ऐसी वेबसाइटों को ढूंढ कर वहां पर बैकलिंक्स बना सकते हैं और Link Juice प्राप्त कर सकते हैं.

2- Indirect Link Building

इनडायरेक्ट लिंक बिल्डिंग जिसे Link Earning भी कहा जाता है, इनडायरेक्ट लिंक बिल्डिंग वह प्रक्रिया है जिसमें हम स्वयं कोई लिंक नहीं बनाते हैं.

इसमें अन्य ब्लॉग या वेबसाइट जो हमारे Content को पसंद करते हैं वे हमारे कंटेंट को अपने वेबपेज पर लिंक करके हमारे लिए बैकलिंक बनाते हैं. 

यदि आप पूरी रिसर्च के साथ एक ऐसा कंटेंट लिखते हैं जो लिंक करने लायक है, तो आपके पास अनेक Indirect Link Building के अवसर होते हैं. 

इस प्रकार के बैकलिंक के माध्यम से आपकी वेबसाइट की Ranking बहुत तेजी से बढ़ सकती है क्योंकि इससे गूगल को Signal मिलता है कि इस वेबपेज पर उपयोगी कंटेंट है.

3- Internal Linking

इंटरनल लिंकिंग Link Juice प्राप्त करने का एक पावरफुल तरीका है, आप अपने ब्लॉग पोस्ट को अन्य पोस्ट से लिंक करके अधिक Link Juice बना सकते हैं और सर्च इंजन रिजल्ट पेजों में अच्छी रैंकिंग प्राप्त कर सकते हैं.

SEO में लिंक जूस काम कैसे करता है?

SEO में लिंक जूस का महत्व समझने के लिए, यह आवश्यक है कि आप स्पष्ट रूप से समझें कि यह कैसे काम करता है.

मान लीजिए कि दो वेबसाइट्स y.com और z.com, एक ही Keyword पर लेख लिखते हैं, उनके कंटेंट भी Valuable हैं और वे On Page SEO को भी अच्छे से करते हैं.

लेकिन अगर y.com के वेबपेजों पर z.com की तुलना में अधिक बैकलिंक हैं, तो y.com को z.com से बेहतर रैंकिंग मिल सकती है.

इसका कारण यह है कि y.com के कंटेंट को अधिक वेबसाइटों ने Do Follow बैकलिंक्स के माध्यम से जोड़ा है और y.com के पास Link Juice भी अधिक है.

सर्च इंजन जो Matrix समझते हैं वह Link Juice ही होता है. इसलिए जिस वेबसाइट के पास अधिक Link Juice होता है, वह अधिक अच्छी रैंकिंग प्राप्त कर सकती है.

अपनी वेबसाइट को High Competition वाले कीवर्ड पर रैंक करने के लिए, Link Juice या कहें कि High Authority वेबसाइटों से प्राप्त Do Follow Backlink भी एक महत्वपूर्ण Factor है.

क्या ज्यादा लिंक बनाने से अधिक लिंक जूस मिलेगा?

अब आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि क्या ज्यादा लिंक बनाने से अधिक लिंक जूस मिलेगा? इस जवाब को समझने के लिए चलिए फिर से इन दोनों वेबसाइट y.com और z.com का उदाहरण लेते हैं.

मान लीजिए, वेबसाइट y.com को दो अलग-अलग वेबसाइटों से बैकलिंक्स मिले हैं और दोनों की अथॉरिटी 60 है, और वेबसाइट z.com को तीन वेबसाइटों से बैकलिंक्स मिले हैं लेकिन उनकी अथॉरिटी 25 है.

अब इन डेटा को कैलकुलेट करने पर y.com का लिंक जूस 120 होगा, जबकि z.com का लिंक जूस केवल 75 होगा, इसके आधार पर वेबसाइट y.com का लिंक जूस अधिक है.

इसका मतलब यह है कि अधिक Quality वाले Backlinks वाली वेबसाइट में लिंक जूस भी अधिक होगा.

इसलिए आपको हमेशा Backlinks की Quality पर ध्यान देना चाहिए, न कि केवल उनकी Quantity पर, जिससे वेबसाइट की Search Engine Ranking में सुधार होने लगता है.

लिंक की वैल्यू अधिक कब होगी (Link Value in SEO)

अब तक आपने जाना कि Link Juice Kya Hai आइए अब जानते हैं कि किसी Link की Value कब अधिक होती है.

• जब किसी वेबसाइट को लिंक किसी दूसरी वेबसाइट के होमपेज पर मिलता है तो उस लिंक की वेल्यू सबसे अधिक होती है, जबकि केटेगरी पेज पर मिलने वाले लिंक की वेल्यू उससे कम और आर्टिकल पर मिलने वाले लिंक की वेल्यू सबसे कम होती है.

• यदि लिंक आर्टिकल के Top पर है तो उसकी वेल्यू अधिक होती है इसी प्रकार यह क्रम चलता है और content के अंतिम में लिंक की वेल्यू सबसे कम होती है.

• यदि आपको एक ही वेबसाइट से दो या अधिक बार कोई लिंक मिलता है तो उस लिंक की वेल्यू कम हो जाती है, यदि कोई लिंक किसी ऐसी Website से मिलता है जहां से पहले लिंक नहीं मिला था तो उस लिंक की वेल्यू अधिक होती है.

• जब आपकी वेबसाइट को किसी ऐसी वेबसाइट से लिंक मिलता है जिसे पहले से ही किसी Authority Website से लिंक मिला हुआ है, तो ऐसे लिंक की वेल्यू भी अधिक होती है.

• यदि लिंक किसी ऐसे वेबपेज से मिला हो जो कभी-कभार अपडेट किया जाता है, तो उस लिंक की Value भी कम होती है, जबकि नियमित रूप से अपडेट होने वाले लिंक की वेल्यू अधिक होगी.

• Internal Link की तुलना में External Link अधिक वेल्यू प्रदान करते हैं.

FAQ For Link Juice Meaning in Hindi

प्रश्न - लिंक जूस क्या होता है.
उत्तर - Link Juice वह वैल्यू होती है जो किसी Webpage को दूसरे Webpage से लिंक के द्वारा मिलती है.

प्रश्न - Link Juice क्या बताता है.
उत्तर - लिंक जूस यह बताता है कि किसी वेबसाइट को जो Backlink मिले हैं वह कितने Powerful हैं.

यह लेख भी पढ़ें -

निष्कर्ष: What is Link Juice in Hindi

तो दोस्तों ये थी लिंक जूस क्या है (What is Link Juice in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी. SEO में Link Juice एक महत्वपूर्ण Factor है जो Backlinks से प्राप्त होता है, इस लेख में हमने आपको Link Juice से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करने की पूरी कोशिश की है, ताकि आपको लिंक जूस क्या होता है विषय पर किसी अन्य लेख पर जाने की आवश्यकता न हो.

उम्मीद है आपको Link Juice Kya Hai से संबंधित यह जानकारी पसंद आई होगी. कृप्या इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर भी शेयर करें.

एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें