कीवी के 12 फायदे और नुकसान

Sandeep
2
स्वस्थ जीवन जीने के लिए कई फल एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, इनमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं, आज हम इस लेख में अनोखे फल कीवी के बारे में बात करेंगे.

कीवी स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत का खजाना भी है, इस लेख में हम कीवी के फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे. कृपया लेख में अंत तक बने रहें. 

TOC

कीवी फल क्या है?

कीवी, जिसे वैज्ञानिक रूप से एक्टिनिडिया डेलिसिओसा के नाम से जाना जाता है, एक छोटा फल है जो अपनी स्वादिष्ट और पौष्टिकता के लिए जाना जाता है, यह चीन का मूल निवासी है और 20वीं शताब्दी की शुरुआत में न्यूजीलैंड लाया गया था.

कीवी फल कैसा होता है

कीवी का आकार अंडाकार या बेलनाकार, लंबाई 5-8 सेमी, चौड़ाई 4-6 सेमी और रंग हल्का हरा या भूरा होता है.

कीवी फल के छिलके पर बालों वाले धब्बे या छोटे काले बाल होते हैं, इसके गूदे की बात करें तो इसका गूदा हरा, लाल या पीला (किस्म के आधार पर) होता है, कीवी के बीज काले रंग के, खाने योग्य (हालांकि थोड़े कड़वे) होते हैं.

kiwi ke fayde or nuksan

कीवी फल का स्वाद कैसा होता है
कीवी का स्वाद मीठा, थोड़ा खट्टा या खट्टी मिठास का मिश्रण होता है, कुछ किस्मों में हल्का तीखापन होता है, कीवी फल की सुगंध फलों और जड़ी-बूटियों के मिश्रण की तरह अनोखी होती है. 

कीवी फल के लोकप्रिय नाम  
कीवी फल, जिसका वैज्ञानिक नाम एक्टिनिडिया डेलिसिओसा है, अंग्रेजी में इसे Kiwi fruit, Chinese gooseberry, Kiwi berry, Actinidia deliciosa कहा जाता है, हिंदी में कीवी को, चीनी आंवला, मकाक आड़ू और किवी बेरी भी कहा जाता है. 

कीवी की विशेषताएं 
कीवी की लता, 10 मीटर तक ऊँची हो सकती है, इसकी हरी-भरी पत्तियां और सफेद या गुलाबी रंग के फूल देखने में बहुत सुंदर लगते हैं, यह दुनिया भर में पाया जाता है और कई तरह की जलवायु में रह सकता है, इसलिए इसे उगाना आसान होता है.

कीवी की लता न केवल सुंदर दिखती है, बल्कि इसके कुछ औषधीय गुण भी होते हैं, इसके फलों का उपयोग कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है साथ ही यह हवा को शुद्ध करने में भी मदद करता है, कीवी का यही मिश्रण इसे हम सबके बीच इतना लोकप्रिय बनाता है.

कीवी पर फल कब लगते हैं?
वसंत ऋतु के अंत और गर्मियों की शुरुआत में, मई से जून के महीने के बीच, कीवी के पौधे पर फूल आते हैं, मधुमक्खियों और अन्य परागणकों द्वारा इन फूलों के परागण के बाद, फल बनना शुरू हो जाता हैै.

लगभग 6-8 महीने में, ये फल पक जाते हैं, जब कीवी के फल नरम और थोड़े झुर्रीदार हो जाते हैं, तब इन्हें तोड़ा जाता है.

कीवी कहां होता है
कीवी को समशीतोष्ण और उपोष्णकटिबंधीय जलवायु में उगाया जाता है, यह 10 डिग्री सेल्सियस से 30 डिग्री सेल्सियस के तापमान में पनपता है.

आज, कीवी दुनिया भर में कई देशों में पाया जाता है, जिनमें इटली, चीन, न्यूजीलैंड, ग्रीस, संयुक्त राज्य अमेरिका, चिली और भारत शामिल हैं.

भारत में, कीवी हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू और कश्मीर जैसे राज्यों में उगाए जाते हैं.

कीवी फल में पाए जाने वाले पोषक तत्व

कीवी फल विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन ई का उत्कृष्ट स्रोत है, इसमें टेसियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, कॉपर जैसे खनिज भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, इसके अलावा कीवी फल में ल्यूटिन, ज़ेक्सैन्थिन, एक्टिनिडिन और विटामिन ई जैसे एंटीऑक्सीडेंट भी काफी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं.

कीवी फल खाने के फायदे

कीवी फल न केवल खाने में स्वादिष्ट होता है, बल्कि यह कई स्वास्थ्य लाभ भी पहुंचाता है, अब हम कीवी के 12 अद्भुद फायदों के बारे में जानेंगे, जो आपको इसे अपने आहार में शामिल करने के लिए प्रेरित करेंगे.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए - कीवी, विटामिन सी का एक उत्कृष्ट स्रोत है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है, विटामिन सी सफेद रक्त कोशिकाओं के निर्माण को बढ़ावा देता है, जो शरीर को हानिकारक बैक्टीरिया और वायरस से बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

पाचन क्रिया में सुधार - कीवी फाइबर का एक उत्कृष्ट स्रोत है जो पाचन क्रिया को कई तरह से लाभ पहुंचाता है, फाइबर भोजन को पचाने और अवशोषित करने में मदद करता है, जिससे कब्ज से राहत मिलती है और पेट फूलना, गैस और अपच जैसी समस्याओं को कम करने में मदद मिलती है.

हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभकारी - कीवी फल पोटेशियम और विटामिन ई से भरपूर होने के कारण, रक्तचाप को नियंत्रित करता है, हृदय गति को नियमित रखता है और हृदय रोगों का खतरा कम करता है, यह रक्त वाहिकाओं को मजबूत बनाता है और रक्त के थक्कों को बनने से रोकता है, जो हृदय गति रुकने और स्ट्रोक जैसी बीमारियों से बचाता है.

कैंसर से बचाव - कीवी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी, कैंसर पैदा करने वाले मुक्त कणों से लड़ते हैं और कैंसर के खतरे को कम करते हैं, यह DNA क्षति को रोकता है और कैंसर कोशिकाओं के विकास को धीमा करता है.

आंखों के स्वास्थ्य के लिए - कीवी, ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन जैसे दो शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं, ये कैरोटीनॉयड रेटिना को नुकसान से बचाने में मदद करते हैं, जो मोतियाबिंद और उम्र से संबंधित धब्बेदार अध: पतन (AMD) के विकास का खतरा कम करते हैं.

मधुमेह नियंत्रण - कीवी, अपने उच्च फाइबर, विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट के कारण, मधुमेह रोगियों के लिए विशेष रूप से लाभदायक फल है, यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने, इंसुलिन प्रतिरोधकता को कम करने और मधुमेह से जुड़ी जटिलताओं, जैसे हृदय रोग, स्ट्रोक और गुर्दे की बीमारी को रोकने में मदद करता है.

हड्डियों को मजबूत बनाए - कीवी में प्रचुर मात्रा में पाए जाने वाले विटामिन K और कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं, विटामिन K हड्डियों के निर्माण में सहायता करता है, जबकि कैल्शियम हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए आवश्यक खनिज प्रदान करता है, नियमित व्यायाम के साथ, विटामिन K और कैल्शियम ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों से बचाने और हड्डियों के टूटने के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं.

मांसपेशियों की ऐंठन को कम करे - कीवी में प्रचुर मात्रा में पाया जाने वाला पोटेशियम मांसपेशियों की ऐंठन को कम करने में मदद करता है, यह इलेक्ट्रोलाइट संतुलन को बनाए रखता है और मांसपेशियों के कार्य में सुधार करता है, नियमित व्यायाम और पर्याप्त पानी पीने के साथ, पोटेशियम थकान को कम करने और ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है.

रक्त के थक्कों को रोके - कीवी में मौजूद एंटीप्लेटलेट यौगिक रक्त प्लेटलेट्स को एक साथ चिपकने से रोकते हैं, जिससे रक्त के थक्के बनने की संभावना कम हो जाती है, यह रक्त प्रवाह को बेहतर बनाता है और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, जिससे हृदय और मस्तिष्क संबंधी बीमारियों का खतरा कम होता हैै.

मासिक धर्म चक्र को नियंत्रित करें - कीवी में विटामिन ई और मैग्नीशियम पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जो कि मासिक धर्म की ऐंठन को कम करने में मदद करते हैं, कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि यह PMS के लक्षणों को कम करने और मूड स्विंग को नियंत्रित करने में भी मदद करते हैं.

त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद - कीवी फल में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट भी पाए जाते हैं, जो कि त्वचा को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं, जो झुर्रियों को कम करने में योगदान देता है.

गर्भावस्था में लाभकारी - फोलेट, जो कीवी में प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, गर्भवती महिलाओं में भ्रूण के तंत्रिका तंत्र के विकास के लिए महत्वपूर्ण हैै, यह जन्मजात तंत्रिका ट्यूब दोषों के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है और स्वस्थ गर्भावस्था सुनिश्चित करता है.

नींद में सुधार - विटामिन सी और मैग्नीशियम, जो कीवी में पाए जाते हैं, तनाव के स्तर को कम करने और अनिद्रा के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं, जो शांत और गहरी नींद को बढ़ावा देने में मदद कर सकता हैै.

ऊर्जा स्तर बढ़ाए - कीवी में मौजूद प्राकृतिक शर्करा आपके ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने, थकान को कम करने और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकता है.

कीवी फल कैसे खाएं 

कीवी, एक स्वादिष्ट और पौष्टिक फल, जिसे विभिन्न तरीकों से खाया जा सकता है.

कच्चा - कीवी का आनंद लेने का सबसे आसान तरीका यह है कि इसे धोकर, छीलकर, पूरे को या आधा करके कच्चा खाएं.

सलाद - आप इसे सलाद में अपने पसंदीदा फलों के साथ मिलाकर भी आनंद ले सकते हैं.

स्मूदी - आप स्वादिष्ट और पौष्टिक स्मूदी बनाने के लिए इसे अपने पसंदीदा फलों, सब्जियों और दही के साथ मिला सकते हैं, आप इसे दही या आइसक्रीम के साथ टॉपिंग के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

छिलका खाएं या न खाएं - अधिकांश लोग छिलका हटा देते हैं, लेकिन आप इसे भी खा सकते हैं, छिलके में फाइबर और पोषक तत्व होते हैं लेकिन यह थोड़ा कड़वा हो सकता है, यदि आप छिलका खाना चाहते हैं तो कीवी को अच्छी तरह धो लें और छोटे टुकड़ों में काट लें.

कितना खाएं 
यदि आप पहली बार कीवी फल खा रहे हैं, तो धीरे-धीरे शुरू करें और देखें कि आपका शरीर कैसी प्रतिक्रिया करता है, यदि आपको कोई प्रतिकूल प्रतिक्रिया होती है, जैसे कि एलर्जी की प्रतिक्रिया, तो इसे खाना बंद कर दें.

आमतौर पर दिन में 1 कीवी फल खाना पर्याप्त होता है,  हालाँकि कुछ लोगों को उनकी व्यक्तिगत आवश्यकताओं के आधार पर अधिक या कम कीवी फल खाने की आवश्यकता हो सकती है. 

कीवी फल का मूल्य
आप किवी फल को स्थानीय किराना दुकानों और फल बाजारों में आसानी से खरीद सकते हैं, एक किलो कीवी की कीमत ₹80 से ₹120 प्रति किलोग्राम तक हो सकती है, जो मौसम, उत्पादन का स्थान, ब्रांड और गुणवत्ता पर निर्भर करती है, 

आम तौर पर, मौसम में कीवी का फल सस्ता होता है, विभिन्न किस्मों की कीमत भी भिन्न हो सकती है, भारत में, किवी फल की औसत राष्ट्रीय कीमत ₹100 प्रति किलोग्राम है.

कीवी फल के नुकसान

अब तक हमने कीवी फल के फायदों और उपयोगों के बारे में जाना है, आइए अब इसके कुछ संभावित दुष्प्रभावों पर भी नज़र डालते हैं, ताकि आप इसका आनंद लेते हुए इन दुष्प्रभावों से बच सकें.

एलर्जी - कुछ लोगों को कीवी के फल से एलर्जी हो सकती है, एलर्जी की प्रतिक्रिया के लक्षणों में त्वचा पर चकत्ते, खुजली, सूजन, सांस लेने में परेशानी, पेट दर्द, मतली और उल्टी शामिल हैं.

पाचन संबंधी समस्याएं - जिन लोगों को आईबीएस (Irritable Bowel Syndrome) या अन्य पाचन संबंधी विकार हैं, उन्हें अधिक मात्रा में कीवी फ्रूट खाने से पेट में दर्द, गैस, सूजन और दस्त हो सकता है.

रक्त को पतला करने वाली दवाओं के साथ - कीवी रक्त को पतला करने वाली दवाओं के प्रभाव को बढ़ा सकती है, जिससे रक्तस्राव का खतरा बढ़ जाता है.

गुर्दे की पथरी का खतरा - कीवी में ऑक्सालेट की मात्रा अधिक होती है, जो गुर्दे की पथरी के निर्माण में योगदान दे सकती है, यदि आपको पहले गुर्दे की पथरी हुई है तो आपको कीवी का सेवन सीमित मात्रा में करना है.

यदि आपकी कोई स्वास्थ्य समस्या है, तो आपको Kiwi fruit का सेवन शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए.

यह लेख भी पढ़ें -

निष्कर्ष: कीवी के फायदे और नुकसान

कीवी फल एक स्वादिष्ट और पौष्टिक फल है जो आपके समग्र स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है, इसे अपने आहार में शामिल करना सुनिश्चित करें.

इस हिंदी लेख में हमने जाना कि कीवी फ्रूट की पहचान क्या है, यह कैसा होता है, कीवी फल खाने के फायदे क्या हैं और कीवी फल कैसे खाएं इसके साथ ही हमने जाना कि कीवी फल खाने से क्या नुकसान होते हैं.

उम्मीद है कि आपको कीवी के फायदे और नुकसान लेख पसंद आया होगा. यदि हां, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करें.

एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें